कलम का तिलक,फतेहाबाद, 3 अक्तूबर।जिला के सात खंड तथा सभी गांवों में कौशल रथ के माध्यम से बेरोजगार युवाओं का पंजीकरण किया जाएगा और उन्हें प्रधानमंत्री कौशल योजना व पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के माध्यम से प्रशिक्षण देकर नौकरी दिलवाने में मदद की जाएगी। लघु सचिवालय परिसर से उपायुक्त डॉ. हरदीप सिंह व अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. जे के आभीर ने इस कौशल रथ को हरी झंडी दिखाकर गाँवों के लिए रवाना किया।
इस अवसर पर उपायुक्त डॉ. हरदीप सिंह ने कहा कि कौशल रथ के माध्यम से शैक्षणिक स्तर के अनुसार युवाओं का कौशल विकास किया जाएगा। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद युवाओं को कम से कम तीन माह की प्लेसमेंट दिलवाई जाएगी। इस दौरान उन्हें कम से कम 8 हजार रुपए का मानदेय भी प्रदान किया जाएगा। प्रशिक्षण पूरा करने वाले युवाओं को एक-एक टेबलेट भी प्रदान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि कौशल रथ के साथ चलने वाली टीम द्वारा 8वीं से अधिक पढ़ाई किए हुए सभी ग्रामीण युवाओं जिनकी आयु 18 से 35 वर्ष की है, उनका पंजीकरण किया जाएगा। एडीसी डॉ. आभीर ने बताया कि ग्रामीण युवाओं को सरकार की विभिन्न रोजगार स्वरोजगार नीतियों की जानकारी देने प्रशिक्षण मुहैया करवाने के लिए राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत कौशल रथ को रवाना किया गया है। बेरोजगार युवाओं का केंद्र सरकार के कौशल पंजी नामक एप्प पर पंजीकरण किया जाएगा, जिससे इनका आंकड़ा केंद्र व प्रदेश सरकार के पास उपलब्ध रहेगा।